设为首页 | 收藏本站
您的位置:इलेक्ट्रॉनिक गेमिंग मशीनें > हाथ में पोकर वीडियो गेम >

हाथ में पोकर वीडियो गेम कोविड-19 इंफेक्शन से सुरक्षा के लिए कैंटीन्स रहेंगी बंद


点击:180 作者:इलेक्ट्रॉनिक गेमिंग मशीनें 日期:2020-09-16 12:13:19

Covid-19 Transmission: राजधानी दिल्ली में एक बार फिर कोरोना संक्रमण के मामलों के बढ़ने पर केंद्र सरकार ने उस आदेश को वापस ले लिया हैहाथ में पोकर वीडियो गेम, जिसमें चार माह से बंद चल रहीं सभी मंत्रालयों की कैंटीनों को फिर से खोलने का निर्देश दिया गया था। 28 अगस्त को जारी आदेश को वापस लेते हुए केंद्र सरकार ने सभी मंत्रालयों को अग्रिम आदेशों तक कैंटीनों को बंद रखने का आदेश दिया है। Also Read - कितने अलग होते हैं फ्लू और कोविड-19 के लक्षण? जानें दोनों के बीच का अंतर

कार्मिक मंत्रालय के एक अधिकारी ने आईएएनएस को बताया कि दिल्ली में कोरोना का खतरा बरकरार है। मामले फिर से बढ़ने शुरू हुए हैं। ऐसे में एहतियातन सभी कैंटीन को बंद रखने का निर्णय लिया गया है। 28 अगस्त के आदेश को वापस ले लिया गया है। (Covid-19 Transmission) Also Read - स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहाहाथ में पोकर वीडियो गेम, कोविड रोगियों के लिए मेडिकल ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं

दिल्ली में बढ़ते कोरोना केसेस की वजह से कैंटीन्स रहेंगी बंद (Covid-19 Transmission ):

दरअसलहाथ में पोकर वीडियो गेम, कोरोना के खतरे को देखते हुए 20 अप्रैल से केंद्र सरकार के मंत्रालयों और विभागों की कैंटीनें बंद चल रहीं हैं। दिल्ली में कोरोना को काबू में होता देखकर चार महीने बाद इन कैंटीनों को फिर से खोलने की योजना बनाई गई थी। कार्मिक मंत्रालय ने बीते 28 अगस्त को सभी मंत्रालयों को इन कैंटीनों को खोले जाने की अनुमति वाला एक आर्डर भी जारी किया था। Also Read - Covid-19 Live Updates: भारत में कोरोना के मरीजों की संख्या हुई 49हाथ में पोकर वीडियो गेम,30हाथ में पोकर वीडियो गेम, हाथ में बेसबॉल खेल 1980 के दशक236, अब तक 80,776 लोगों की मौत

28 अगस्त के आदेश में कहा गया था, प्रतिबंधित गतिविधियों को धीरे-धीरे शुरू करने की अनुमति मिल रही है। ऐसे में दिल्ली में मंत्रालयों की कैंटीनों को फिर से खोलने का निर्णय लिया गया है। लेकिन, इसके लिए गृहमंत्रालय और स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी आदेशों का कड़ाई से पालन करना होगा। सभी कर्मचारियों को डिस्ट्रिब्यूशन और सेल काउंटर पर सोशल डिस्टैंसिंग के साथ सभी प्रोटोकॉल का पालन जरूरी है। 28 अगस्त को जारी इस आदेश के तहत सोमवार यानी 31 अगस्त से डिपार्टमेंटल कैंटीनों को खोलने की तैयारी थी।

लेकिन,हाथ में पोकर वीडियो गेम पिछले दो महीने में दिल्ली में काबू में दिख रहे कोरोना के मामले अचानक बढ़ने लगे। 30 अगस्त को जहां 2024 केस आए तो एक सितंबर को कोरोना संक्रमण के 2312 मामले आए। कार्मिक मंत्रालय ने इसे देखते हुए कैंटीनों को खोलने के संबंध में एक सितंबर को नया आदेश जारी करते हुए 28 अगस्त के पुराने आदेश को वापस लिया। आईएएनएस के पास मौजूद कार्मिक मंत्रालय के डिप्टी सेक्रेटरी उमेश कुमार भाटिया की ओर से जारी आदेश में कहा गया है, यह कहने का निर्देश प्राप्त हुआ है कि 28 अगस्त को कैंटीनों को फिर से खोलने का आदेश तत्काल प्रभाव से वापस लिया जााता है। कैंटीनें अग्रिम आदेशों तक बंद रहेंगी।

क्या भोजन से फैलता है कोविड-19 ?

कुछ समय पहले ही  इस विषय पर विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने बयान दिया है कि उनके अधिकारियों को भोजन आर पैकेटबंद फूड्स से कोविड वायरस के प्रसार के कोई प्रमाण नहीं मिले हैं। WHO ने कहा है कि, लोगों को इस बात को लेकर चिंता नहीं करनी चाहिए कि, कोविड वायरस, भोजन या फूड चेन से फैलता है। गौरतलब है कि, चीन के दो शहरों में ब्राजील से इम्पोर्टेड फ्रोजन चिकन विंग और एक्वाडोर से इम्पोर्टेस फ्रोजन प्रॉन्स की पैकिंग पर कोरोना वायरस के ट्रेस मिलने का दावा किया।  जिसके बाद विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इस मामले में कहा था कि, अभी तक भोजन से कोरोना फैलने के सबूत नहीं मिले हैं।

Published : September 3, 2020 6:10 pm | Updated:September 3, 2020 7:49 pm Read Disclaimer Comments - Join the Discussion डायबिटीज ही नहीं बल्कि गठिया मरीजों के लिए भी बहुत खतरनाक है कोरोना वायरसडायबिटीज ही नहीं बल्कि गठिया मरीजों के लिए भी बहुत खतरनाक है कोरोना वायरस डायबिटीज ही नहीं बल्कि गठिया मरीजों के लिए भी बहुत खतरनाक है कोरोना वायरस 10 में से 1 गर्भवती हो सकती है कोरोना संक्रमित, नहीं दिख रहे हैं लक्षण : रिपोर्ट10 में से 1 गर्भवती हो सकती है कोरोना संक्रमित, नहीं दिख रहे हैं लक्षण : रिपोर्ट 10 में से 1 गर्भवती हो सकती है कोरोना संक्रमित, नहीं दिख रहे हैं लक्षण : रिपोर्ट ,,
友情链接